NCERT Geography Notes Class 9 Chapter 5

Spread the Knowledge

NCERT Geography Notes Class 9 Ch 5 इस अध्याय में भारत मे पाए जाने वाली वनस्पतियो के बारे बताया है। जिसमे इसके सभी प्रकारों के बारे में भी बताया गया है।

NCERT | Geography
NCERT Geography Notes

भूगोल  एक रोचक विषय है| ये विषय विश्व के भौगोलिक(भौतिक) परिस्थितियों को जानने में हमारी मदद करता है। वर्तमान समय मे इस विषय में भी छात्रों की रुचि बढ़ती जा रही है। इस विषय को पढ़ने के बाद हम इस विश्व  के बारे में बहुत कुछ जान सकते है और जानते भी है। जिसमे मुख्य रूप से पहाड़ो, पर्वतों,नदियों, महासागरों एवम जीव जगत व पादप जगत की भी जानकारी मिलती है। इस विषय मे सबसे महत्वपूर्ण तत्व है मानचित्र जो कि भौतिक जगत के बारे में हमारी समझ मे और ज़्यादा इज़ाफ़ा करता है। इस विषय मे खगोलशास्त्र(ब्रह्माण्ड) के बारे में बताया गया है।
ncert geography class 9

इस विषय को पढ़ने को बहुत से फायदे भी है जिसमे पहला ये है कि इससे हमारी भौगोलिक ज्ञान में संवृद्धि करती है। दूसरा फायदा ये है कि ये विषय बहूत से प्रतियोगी परीक्षाओं में भी हमारी मदद करता है| भूगोल विषय मे सूचनाओं व रोचक जानकारियों का भी भरमार है जिसमें हमें सामान्य अध्ययन के बहूत से सवालो का जवाब मिलता है| भूगोल हमे ये समझने में भी मदद करता है जिन परिस्थितियों में आज हम जी रहे है वही परिस्थितियां पुराने समय मे कैसी थी और समय के साथ इसमें कैसे बदलाव आया है। भूगोल को पढ़ते समय ये हमे विभिन्न भौतिक  परिस्थितियों से अवगत करवाती है जिसमे हम समकालीन समय के विश्व की आपस मे दूसरे देशों के साथ कर सकते है।

NCERT Geography Class 9 इस पुस्तक में हमारे देश के बारे में बताया गया है। जिसमे मुख्य रूप से नदी, जलवायु, जनसंख्या, वनस्पति व वन्य प्राणी आदि के बारे में बताया गया है। इस पुस्तक में कुल 6 अध्याय है और हमारे द्वारा सभी पाठो के नोट्स तैयार किये गए है।

पिछले अध्याय के बारे में :
इस अध्याय में  भारत  की जलवायु के बारे में एवम इसे प्रभावित करने वाले सभी कारको के बारे में बताया गया है।
Click Here
ncert geography book class 9 chapter 5

विषयवस्तु

1.भारत – आकार व स्थिति

2.भारत का भौतिक स्वरूप

3.अपवाह

4.जलवायु

5.प्राकृतिक वनस्पति तथा वन्य प्राणी

6.जनसंख्या

ncert geography class 9 in hindi

अध्याय 5
प्राकृतिक वनस्पति तथा वन्य प्राणी
प्रस्तावना
इस अध्याय में भारत मे पाए जाने वाली वनस्पतियो के बारे बताया है। जिसमे इसके सभी प्रकारों के बारे में भी बताया गया है।

1.भारत विश्व के 12 जैव-विविधताओं वाले देशो में से एक| 47000 जातियों के पौधे( विश्व में 10वे तथा एशिया में चौथे स्थान पर| 15000 फूलो के पौधे(विश्व का 6%) एवम लगभग 89000 जानवरो की प्रजाति यह पाई जाती है|
2.वन तापमान व पवन को नियंत्रित करते है तथा वर्षा लाने में सहायता करते है|
3.किसी भी क्षेत्र के पादप तथा प्राणी आपस में तथा अपने भौतिक पर्यावरण में संबंधित होते है और एक पारिस्थितिक तंत्र का निर्माण करते है मनुष्य भी इसका एक हिस्सा होते है|
4.धरातल पर एक विशिष्ट प्रकार के वनस्पतरी या प्राणी जीवन वाले विशाल पारिस्थितिकी तंत्र को जीवोम कहते है|
5.उष्णकटिबंधीय वर्ष वन:- पश्चिमी तट के अधिक वर्ष वाले क्षेत्र( लक्षद्वीप, अंडमान व निकोबार, असम के ऊपरी भाग तथा तमिलनाडु के तट, वर्ष भर हरे- आबनूस, महोगनी, रोज़वुड यह के पादप तथा हाथी, बंदर, एक सिंह वाला गैंडा, हिरण यह पाए जाते है|
6.उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन:- मानसूनी वन- 70- 200 cm वर्षा, सगों सबसे प्रमुख प्रजाति| बांस, साल, शीशम, चंदन, कुसुम आदि| शुष्क पर्णपाती वन(70-100cm वर्षा)- सागोन,साल,शीसम, नीम के साथ सिंह,शेर,सुअर,हिरण आदि पाए जाते है|
7.कटीले वन तथा झाड़िया(70cm से कम वर्षा):- अकासिया,यूफोरबिया,नागफनी पादप प्रजाति| चूहे, खरगोश,लोमड़ी,भेड़िये,जंगली गधा, घोड़े,ऊंट आदि पाए जाते है|
8.1000- 2000 मीटर वाले ऊंचाई क्षेत्र में आर्द्र शीतोष्ण कटिबंधीय वन पाए जाते है| 1500- 3000 के बीच शंकुधारी वन(चीड़, देवदार आदि) पाए जाते है| 3600 से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में अल्पाइन वनस्पति पाई जाती है| यह कश्मीरी महामृग, चित्र हिरण, तिब्बती बारहसिंघा, याक आदि पाए जाते है|
9.मैंग्रोव वन: इसकी पौधों की जड़े पानी में रहती है| नारियल, ताड़, क्योडा प्रमुख पौधे| बंगाल टाइगर पाये जाते है|
10.विश्व में 1200 से अधिक पक्षियों की प्रजाति( विश्व का 13%, मछलियों की 2500 प्रजाति(विश्व का 12%)|
11.भारत विश्व का अकेला देश है जहा शेर व बाघ दोनों पाये जाते है| घड़ियाल केवल भारत में पाये जाते है|
12.लगभग 1300 पादप प्रजाति संकट में , 20 प्रजातीय विनष्ट हो चुकी है|
13.14 जीव मंडल निचय( आरक्षित क्षेत्र) 1992 से पादप उद्यानों को वित्तीय तथा तकनीकी सहायता  इसी के साथ 89 नेशनल पार्क, 49 वन्य प्राणी अभ्यारण एवम के चिड़ियाघर भी बनाये गए है|

ncert geography class 9 notes for upsc

अगला अध्याय
इस अध्याय में भारत की  जनसंख्या के बारे में बताया गया है इसी के साथ इससे जुड़े सभी कारको के बारे में भी बताया गया है। 

Click Here

हमारी विशेषता:-1.हमारे नोट्स में सरल भाषा का प्रयोग किया गया है|
2.हमारे द्वारा उपलब्ध नोट्स संक्षिप्त है|
3.नोट्स को लिखते समय मुख्य बिन्दुओ का धयान रखा गया है|
4.आप इन नोट्स को PDF के रूप में भी संग्रहित कर सकते है|
5.हम आपके सभी सवालों का जवाब देने के लिए सदैव तैयार है|

इन सब के अलावा हम मुख्य रूप से हम सभी सोशल मीडिया (Social Media ) प्लेटफार्म पर उपलब्ध है जहां आप हमसे संपर्क कर सकते है और यदि आपको हमारा कार्य अच्छा लगता है तो आप हमें वहॉ फॉलो भी कर सकते है|
इस लेख को pdf के रूप में प्राप्त करने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके इस लेख को डाउनलोड करके pdf format में देख सकते है।

ncert geography class 9 pdf

पीडीएफ

आप हमसे अपने सवाल सीधे हमारे फेसबुक पेज व हमारे ईमेल के द्वारा पूछ सकते है। हम पूरी कोसिस करेंगे कि हम आपके सवालो का जवाब दे पाये।

geography class 9 in hindi

Leave a Comment