NCERT History Notes Class 12 Chapter 13

Spread the Knowledge

NCERT History Notes Class 12 Ch 12 इस अध्याय में देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में बताया गया है जो की विदेश से भारत मे आये थे और बहुत ही कम समय मे लोकप्रिय हो गए।

history class 6
Class 12

आजकल इतिहास एक रोचक विषय बनाता जा रहा है| जिसमें मुख्य रूप से  इसके जानकारियों के स्रोतों में होने वाली वृद्धि के कारण संभव हुआ है| इतिहास को मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा जाता है प्रथम प्राचीन इसके बाद मध्यकालीन व इसके बाद का समय आधुनिक काल के रूप में जाना जाता है| आज से कुछ वर्ष पहले तक पाठक इतिहास को पढ़ने तक बचते थे  परंतु अब पाठक भी इस विषय को रुचि से पढ़ते है|इस विषय को पढ़ने को बहुत से फायदे भी है जिसमे पहला ये है कि इससे हमारी तार्किक शक्ति बढ़ती है दूसरा फायदा ये है कि ये विषय बहूत से प्रतियोगी परीक्षाओं में भी हमारी मदद करता है|

इतिहास विषय मे सूचनाओं व रोचक जानकारियों का भी भरमार है जिसमें हमें सामान्य अध्ययन के बहूत से सवालो का जवाब मिलता है| इतिहास हमे ये समझने में भी मदद करता है जिन परिस्थितियों में आज हम जी रहे है वही परिस्थितियां पुराने समय मे कैसी थी और समय के साथ इसमें कैसे बदलाव आया है। इतिहास को पढ़ते समय ये हमे विभिन्न परिस्थितियों से अवगत करवाती है जिसमे हम तत्कालीन समय के सभ्यताओं के आर्थिक, सामाजिक, राजनैतिक व धार्मिक मान्यताओं के बारे में पढ़ते है ।

ncert history class 12 chapter 13 in hindi

NCERT History Class 12 इस पुस्तक में मुख्य रूप से भारतीय इतिहास(प्राचीन,मध्य व आधुनिक) के बारे में बताया गया है| इस पुस्तक में कुल 15 अध्याय है और हमारे  द्वारा सभी पाठ के लिए नोट्स तैयार  किये गए है।
पिछले अध्याय के बारे में :इस अध्याय में  ब्रिटिश शासन के दौरान स्थापित व विकसित किये गए शहरों (मद्रास, कलकत्ता व बम्बई) के बारे में है।Click Here


विषयवस्तु


1.ईंटे, मनके व अस्थियां


2.राजा,किसान व नगर


3.बंधुत्व, जाति तथा वर्ग


4.विचारक, विश्वास और इमारते


5.यात्रियों के नजरिये


6.भक्ति-सूफी परंपराए


7.एक साम्राज्य की राजधानी-विजयनगर


8.किसान,जमींदार और राज्य


9.शासक व इतिवृत


10.उपनिवेशवाद व देहात


11.विद्रोही और राज


12.औपनिवेशिक शहर


13.महात्मा गांधी व राष्ट्रीय आंदोलन


14.विभाजन को समझना


15.संविधान का निर्माण


ncert history class 12 notes


अध्याय 13

महात्मा गांधी व राष्ट्रीय आंदोलन

प्रस्तावना

इस अध्याय में देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में बताया गया है जो की विदेश से भारत मे आये थे और बहुत ही कम समय मे लोकप्रिय हो गए।


1.इटली के निर्माण में गैलिबाल्डी, अमेरिका के लिए जॉर्ज वासिंगटन व वियतनाम के लिए हो ची मिन्ह प्रसिद्ध|


2.जनवरी 1915 में गांधीजी भारत आये| महात्मा। की उपाधि दक्षिण अफ्रीका ने दी|


3.1905-7 स्वदेशी आंदोलन महाराष्ट्र में बाल गंगाधर तिलक, बंगाल से विपिन चंद्र पॉल, व पुनजब के लाला लाजपत राय उभरे-लाल बाल पाल नाम से। प्रसिद्ध|


4.गांधी( राजनीतिक गुरु-गोपाल कृष्ण गोखले-एक वर्ष भारत भ्रमण की सलाह)| पहली सार्वजनिक उपस्थिति 1916 बनारस हिन्दू विद्यालय| 


5.दिसंबर 1916  लखनऊ में कांग्रेस का अधिवेशन।


6.1914-18 के बीच प्रेस पर प्रतिबंन्ध, व बिना किसी जांच के लोगो को जेल में डालने का आदेश-(रॉलेट एक्ट)- सिडनी रॉलेट के अध्यक्षता में समिति जिसने इन कानून को जारी रखा| इस एक्ट के जबरदस्त वीरोध हुआ| 


7.अप्रैल 1919 जालियावाला बाघ हत्याकांड-400 से ज़्यादा लोग मरे- अंग्रेजो के खिलाफ असहयोग आंदोलन|


8.खिलाफत आंदोलन-  नेतृत्व मोहम्मद अली व शौकत अली-मांग-  ऑटोमन साम्राज्य के सभी इस्लामी व पवित्र स्थानों पर तुर्की/खलीफा का नियंत्रण, अरब,सीरिया,इराक,फिलिस्तीन) इस्लामी संम्प्रभुता के अधीन रहे, खलीफा के पास इतने क्षेत्र हो कि वो इस्लामी विश्वास को सुरक्षित रख पाए| असहयोग को समर्थन दिया|


9.फरवरी 1922 किसानों के समूह ने चौरी-चौरा एक पुलिस स्टेशन मे आग लगा दी-पुलिसवालो की मौत हुई| गांधी को मार्च 1922 में राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया| भारत में किसान माध्यम वर्ग के लोग किसान को अपना उद्धारक मानते थे|


10.फरवरी 1924 मे गांधीजी रिहा| 1928 साइमन कॉमिशन सभी सदस्य गोरे इंगलेंड से भारत की स्थिति को जानने आये थे| दिसंबर 1929 कांग्रेस का अधिवेशन लाहौर में| अध्यक्ष-नेहरू| 


11.पूर्ण स्वराज की घोषणा की गई-26 जनवरी। 1930 को स्वतंत्रता दिवस मनाया गया|


12.गांधी जी ने 12 मार्च 1930 गांधीजी ने अपने आश्रम(साबरमती) से यात्रा शुरू की तीन हफ़्तों के बाद दांडी पहुंच कर नामक कानून को तोड़ा |इसके बाद 60000 लोगो को। गिरफ्तार किया गया| इन आंदोलन में महिलाओं ने भी हिस्सा लिया|


13.प्रथम गोलमेज सम्मेलन नवंबर 1930,  किसी भी प्रमुख नेता ने हिस्सा नही लिया| जनवरी 1931 में गांधीजी रिहा हुए|


14.गांधी-इरविन समझौता-शर्त-गांधी द्वारा सविनय आंदोलन वापिस लिया अंग्रेजो द्वारा कैदियों की रिहाई व नमक उत्पादन की मंजूरी|


15.1931,दूसरा गोलमेज सम्मेलन, गांधी कांग्रेस कानेतृत्व, मुस्लिम लीग का कहना था कि मुस्लिमो को नेतृत्व वो करती है, अम्बेडकर का कहना कांग्रेस नीची जातियों का प्रतिनिधित्व नही करती|


16.1935 में गवर्मेन्ट ऑफ इंडिया एक्ट, भारतीयों को सीमित प्रतिधिनिक शासन| सीमित मताधिकार के साथ चुनाव कांग्रेस को 11 में से 8 प्रान्त| 


17.1937 में मंत्रिमंडल का गठन| कांग्रेस के प्रधानमंत्री को गवर्नर के नेतृत्व मे काम करना था मंत्रिमंडल ने 1939 में इस्तीफा दे दिया|


18.मुस्लिम लीग ने 1940 में मुस्लिम बहुल क्षेत्रो में स्वायत्ता की मांग की|


19.1942 में चर्चिल ने गांधी के साथ समझौते के लिए सर स्टेफर्ड क्रिप्स को भारत भेजा- शर्त- वायसराय अपने कार्यकारी परिषद में किसी एक भारतीय को रक्षा सदस्य के रूप में रखना होगा इस बात पर वार्ता टूट गयी|


20.भारत छोड़ो आनदोलन अगस्त 1942 में,, गांधी को तुरंत गिरफ्तार किया गया|जयप्रकाश नारायण(समाजवादी), सक्रीय रहे|


21.जून 1944 गांधीजी रिहा| 1945 में ब्रिटेन में लबोर पार्टी की सरकार बनी| 1946 में नए सिरे से चुनाव सामान्य श्रेणी में कांग्रेस ने वही आरक्षित सीट पर मुस्लिम लीग ने अच्छा प्रदर्शन किया|


22.1946 कैबिनेट मिशन भारत आया इसने कांग्रेस व मुस्लिम लीग को मनाने का प्रयास किया परंतु ये असफल रहा|


23.जिन्ना ने पाकिस्तान की स्थापना के लिए प्रत्यक्ष कार्यवाही दिवस का। ऐलान किया(16 अगस्त 1946)| इसी दिन से खूनी संघर्ष प्रारम्भ|


24.फरवरी 1947 माउन्टबेटन भारत के वाइसराय बने घोषणा की-भारत को आज़ादी मिलेगी परन्तु इसका विभाजन भी होगा|


25.15 अगस्त 1947, गांधीजी ने 24 घंटे का उपवास रखा, कारण देश मे अशांति का माहौल था| गांधी ने बंगाल व दिल्ली में शांति का प्रयास किया|म30 जनवरी को नाथूराम गोडसे(ब्राह्मण) ने गंदी को गोली मार दी|(गोडसे गांधी को मुसलमानों का खुशामदी कहता था)


26.गांधीजी हरिजन नामक अखबार में पत्रों को प्रकाशित करते| नेहरू ने भी राष्ट्रीय आंदोलन के लिए उन्हें लिखे पत्रों का संकलन किया व इसे अ बंच ऑफ ओल्ड लेटर्स के नाम से प्रकाशित किया|ncert class class 12 social science history chapter 13
अगला अध्याय
इस अध्याय में  भारत मे आज़ादी के बाद हुए विभाजन के बारे में  बताया गया है। जिसमें लोगों की दयनीय स्थिति के बारे में काफी चर्चा की गई है।Click Here


हमारी विशेषता:-1.हमारे नोट्स में सरल भाषा का प्रयोग किया गया है|


2.हमारे द्वारा उपलब्ध नोट्स संक्षिप्त है|


3.नोट्स को लिखते समय मुख्य बिन्दुओ का धयान रखा गया है|


4.आप इन नोट्स को PDF के रूप में भी संग्रहित कर सकते है|


5.हम आपके सभी सवालों का जवाब देने के लिए सदैव तैयार है|


इन सब के अलावा हम मुख्य रूप से हम सभी सोशल मीडिया (Social Media ) प्लेटफार्म पर उपलब्ध है जहां आप हमसे संपर्क कर सकते है और यदि आपको हमारा कार्य अच्छा लगता है तो आप हमें वहॉ फॉलो भी कर सकते है|इस लेख को pdf के रूप में प्राप्त करने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके इस लेख को डाउनलोड करके pdf format में देख सकते है।

ncert history book class 12 in hindi pdf download

पीडीएफ
Download PDF

आप हमसे अपने सवाल सीधे हमारे फेसबुक पेज व हमारे ईमेल के द्वारा पूछ सकते है। हम पूरी कोसिस करेंगे कि हम आपके सवालो का जवाब दे पाये।

class 12 history chapter 13 notes pdf

Leave a Comment